वाहन बीमा श्रेणी में सुधार के बावजूद सार्वजानिक क्षेत्र की साधारण बीमा कंपनियाों की निजी कंपनियों के मुकाबले बाजार हिस्सेदारी इस साल अगस्त में घटकर 32.6 प्रतिशत रह गई। इससे पिछले वर्ष के इसी महीने में यह 36.6 प्रतिशत थी। केयर रेटिंग्स के मासिक आंकड़ों के विश्लेषण से पता चलता है कि निजी कंपनियों की मोटर बीमा श्रेणी में हिस्सेदारी अगस्त में बढ़कर 67.4 प्रतिशत हो गई, जो इससे पिछले वर्ष के इसी महीने में 63.4 प्रतिशत थी। 
     
सार्वजानिक क्षेत्र की साधारण बीमा कंपनियों की हिस्सेदारी में वित्त वर्ष 2017-18 से ही गिरावट जारी है। तब सरकारी कंपनियों की इस श्रेणी में हिस्सेदारी 46.5 प्रतिशत और निजी कंपनियों की हिस्सेदारी 53.5 प्रतिशत थी। रिपोर्ट के अनुसार वित्त वर्ष 2018-19 में सरकारी साधारण बीमा कंपनियों की इस श्रेणी में हिस्सेदारी घटकर 40.7 प्रतिशत जबकि निजी कंपनियों का हिस्सा बढ़कर 59.3 प्रतिशत हो गया था।