*ग्राम पंचायत निमनवाड़ा के पंचायत सचिव को किया पद से पृथक* 

*ग्राम पंचायत के निर्माण कार्यों में वित्तीय अनियमितता करने के आरोप में दर्ज हुआ था अपराध*

*मुलताई।*✍️ विजय खन्ना

ब्लॉक की ग्राम पंचायत निमनवाड़ा के पंचायत सचिव नामदेव पाटनकर की सेवा जिला पंचायत सीईओ अभिलाष मिश्रा ने तत्काल प्रभाव से समाप्त करने के आदेश जारी किए हैं। मामला यह है कि ग्राम पंचायत निमनवाड़ा में पंचायत में हुए मनरेगा योजना के निर्माण कार्यों में ग्राम प्रधान,सचिव और रोजगार सहायक ने एक लाख 94 हजार रुपए की वित्तीय अनियमितता की थी। साईं खेड़ा पुलिस ने सीईओ की शिकायत और जांच प्रतिवेदन के आधार पर ग्राम प्रधान कुंडलिक डांगे, सचिव नामदेव पाटनकर और रोजगार सहायक सुभाष धोटे के खिलाफ धारा 409,34 के तहत केस दर्ज कर तीनों को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया था। न्यायालय ने तीनों को जेल भेजने के आदेश दिए थे। जिला पंचायत सीईओ ने अपने आदेश में उल्लेखित किया है कि सचिव नामदेव पाटनकर ने निर्माण कार्यों में वित्तीय अनियमितता करने,शोकाज नोटिस का जवाब नहीं देने,पुलिस थाने में अपराध दर्ज होने के बाद न्यायालय द्वारा जेल भेजने के आदेश जारी करने के 
फलस्वरुप सचिव का कृत्य मध्य प्रदेश पंचायत सेवा नियम 2011 के विपरीत होकर घोर लापरवाही के लिए दोषी है। सीईओ ने सचिव श्रीपाटनकर की सेवा तत्काल प्रभाव से समाप्त करने के आदेश जारी किए है। 

*रोजगार सहायक की सेवा भी समाप्त*
ग्राम पंचायत निमनवाड़ा के रोजगार सहायक सुभाष धोटे की संविदा सेवा को समाप्त करने के आदेश कलेक्टर 
अमनवीर सिंह बैस ने जारी किए हैं।  रोजगार सहायक सुभाष पर ग्राम पंचायत में मनरेगा योजना अंतर्गत पुलिया निर्माण, मेड बंधान कार्य पर बिना कार्य किए अधिक राशि आहरण करने का आरोप है। इसके फलस्वरूप सुभाष के खिलाफ 
साईंखेड़ा थाने में केस दर्ज हुआ है। पुलिस ने सुभाष को गिरफ्तार किया था। न्यायालय ने सुभाष को जेल भेजने के आदेश दिए थे। उक्त कृत्य के लिए कलेक्टर श्रीबैस ने रोजगार सहायक सुभाष धोटे की संविदा सेवा समाप्त करने के आदेश जारी किए हैं।