नई दिल्ली। वाणिज्य और उद्योग मंत्री पीयूष गोयल ने बयान देते हुए यह कहा है कि, "सरकार ने अभी तक एयर इंडिया पर कोई निर्णय नहीं लिया है और बिडिंग प्रॉसेस जीतने वाले का चयन, एक निर्धारित प्रक्रिया के माध्यम से किया जाएगा।" कैबिनेट मंत्री पीयूष गोयल ने शनिवार के दिन यह जानकारी उपलब्ध कराई।
मंत्री ने बयान देते हुए यह कहा कि, "मैं एक दिन पहले से दुबई में हूं और मुझे नहीं लगता कि ऐसा कोई फैसला हुआ है। निश्चित तौर पर बोलियां आमंत्रित की गई थीं,और इसका आकलन अधिकारी करते हैं। समय आने पर एक पूरी तरह से निर्धारित प्रक्रिया के तहत अंतिम विजेता का चयन किया जाएगा"| "टाटा कर्ज में डूबे एयर इंडिया के अधिग्रहण के लिए शीर्ष बोलीदाता के रूप में उभरा है।" निवेश और सार्वजनिक संपत्ति प्रबंधन विभाग (दीपम) के सचिव तुहिन कांता पांडे ने शुक्रवार को एक ट्वीट करते हुए यह जानकारी दी है कि, "केंद्र ने अब तक एयर इंडिया के लिए किसी वित्तीय बोली को मंजूरी नहीं दी है।"उन्होंने ट्वीट करते हुए यह लिखा कि, "एआई विनिवेश मामले में भारत सरकार द्वारा वित्तीय बोलियों को मंजूरी देने वाली मीडिया रिपोर्ट गलत हैं। मीडिया को सरकार के फैसले के बारे में सूचित किया जाएगा।"
संयुक्त अरब अमीरात के साथ प्रस्तावित मुक्त व्यापार समझौते के बारे में पूछे जाने पर गोयल ने कहा कि, "कपड़ा, रत्न और आभूषण, फार्मा और स्वास्थ्य सेवा जैसे क्षेत्रों में भारतीय व्यवसायों के लिए बहुत सारे अवसर हैं। वस्तुओं और सेवाओं दोनों के व्यापार में जबरदस्त संभावनाएं हैं। हमें भारतीय व्यवसायों को यूएई के साथ जुड़ने के लिए प्रोत्साहित करना होगा।"